MEDICINE INFORMATION IN HINDI |

MEDICINE AND DISEASE INFORMATION IN HINDI | DAWA KI JANKARI HINDI ME |

RECENT POST

January 12, 2021

Diclofenac Sodium 50mg । Diclofenac use, Dose, In Hindi ।

Diclofenac Sodium 50mg Medicine infirmation In Hindi


हेलो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आपको डाईक्लोफेनाक ए जानकारी मिलेगी डाइक्लोफिनेक जो कि 1 साल है इस किस किस BRAND में आपको मार्केट में मिलते हैं इसके बारे में आपको पूरा जानकारी मिलेगी,


Diclofenac Sodium 50mg । Diclofenac use, Dose, In Hindi ।
Diclofenac Sodium 50mg । 


नीचे list में आपको Diclofenac Sodium होता क्या है, इसको लेने का तरीका क्या है, डाइक्लोफिनेक किस किस समय आपको लेना चाहिए, और इस दवा को किन किन सावधानी के साथ इस्तेमाल करना चाहिए,

और कौन कौन सी ब्रांड नेम में आपको मार्केट में मिल जाते हैं,




सबसे पहले जान लेते हैं 

Diclofenac Sodium होते क्या है ?

First let's know what are Diclofenac Sodium 50mg 


Diclofenac Sodium (NAISD) ग्रुप का मेडिसिन है. डाइक्लोफिनेक टेबलेट कोटेड फॉर्म में भी मिलता है और सस्टेंड रिलीज फॉर्म में भी मिलते हैं, डाइक्लोफिनेक सस्टेंड रिलीज टेबलेट बॉडी में धीरे-धीरे काम करता है, 


और बहुत देर तक यह काम करता है क्योंकि जब भी शरीर को जरूरत होते हैं तभी यह काम करता है इसीलिए.  डिक्लोफेनाक सस्टेंड रिलीज टेबलेट मरीजों के लिए बहुत ही अच्छा साबित हुआ है.



Diclofenac Sodium 50mg  फॉर्म इन हिंदी जानकारी


सबसे पहले जानते हैं डाईक्लोफेनाक सोडियम का किस-किस फॉर्म में मार्केट में मिलते हैं>

मार्केट में आपको डाइक्लोफिनेक सोडियम का बहुत सारे फॉर्म मिलेंगे जैसे कि डाईक्लोफेनाक जेल, डाइक्लोफिनेक टेबलेट, डाइक्लोफिनेक स्प्रे, डाइक्लोफिनेक इंजेक्शन,

अलग-अलग रूम के हिसाब से डाइक्लोफिनेक सोडियम का फॉर्म डॉक्टर प्रिसक्राइब करते हैं.


Diclofenac Sodium 50mg brand name in Hindi


1. Maxxilet 50mg Tablet

Maxzimaa Pharmaceuticals Pvt. Ltd.



Neodol K 50mg Tablet

Micro Labs Ltd

1.28 / Tablet



Eldofen 50mg Tablet

Elder Pharmaceuticals Ltd

1.85 / Tablet




Migrex 50mg Tablet

Crescent Therapeutics Ltd

3.99 / Tablet


Dairo 50mg Tablet

Icon Life Sciences

2 / Tablet



Dypen 50mg Tablet

Morepen Laboratories Ltd

1.25 / Tablet



Densaid-QA 50mg Tablet

Delvin Formulations Pvt Ltd

14.44 / Tablet



Qrel 50mg Tablet

Perk Pharmaceuticals Ltd

3.4 / Tablet



Dilona 50mg Tablet

Mapra Laboratories Pvt Ltd

1.61 / Tablet



Activa 50mg Tablet

Zydus Cadila

6.82 / Tablet



Synac 50mg Tablet

Kim Lab

0.85 / Tablet



Defenac 50mg Tablet

Lupin Ltd

1.65 / Tabtet



Runac 50mg Tablet

Sun Pharmaceutical Industries Ltd

0.6 / Tablet



Diclofenac Sodium 50mg  जो कि एक SALD है मार्केट में अलग-अलग ब्रांच इसे बनाते हैं जो कि आपको आसानी से मिलते हैं. तो कुछ ब्रांड का नाम आपको नीचे सूची मिलेगा इसके अलावा भी मार्केट में और भी बहुत सारे कंपनी अन्य ब्रांच नेम से इसे मार्केट में भेजते हैं.


Diclofenac Sodium 50mg । Diclofenac use, Dose, In Hindi ।
Diclofenac Sodium 50mg । 



Diclofenac Sodium Use in Hindi


Diclofenac Sodium 50mg  टेबलेट का इस्तेमाल किस किस बीमारियों में किया जाता है उनका पूरा सूची आपको नीचे मिलेगी.  किसी भी दवा या फिर मेडिसिन लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले ताकि आपको आगे जाकर कोई मुसीबत का सामना ना हो सके.



Diclofenac Sodium 50mg Dosage in Hindi


Diclofenac Sodium 50mg  टेबलेट के खुराक के बारे में कुछ बात करें तो इस टैबलेट को रोगियों की कंडीशन के हिसाब से दिया जाता है. अगर कभी भी इस टेबलेट को आप लेते हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए, 


जैसे कि इस टेबलेट के साथ आपको हमेशा एक गिलास पानी के साथ लेना चाहिए. और उसके साथ एक एंटासिड टैबलेट भी लेनी चाहिए क्योंकि डॉक्टर हमेशा इस टैबलेट के साथ एक एंटासिड लेने की सलाह देते हैं.


डाइक्लोफिनेक सोडियम जो कि अलग-अलग फॉर्म में मिलते हैं तो उस हिसाब से पेशेंट की कंडीशन की हिसाब से उसको खुराक दिया जाता है अगर वयस्क के बात करें तो एक टेबलेट आप दिन में दो से तीन बार ले सकते हैं. 


और बच्चों के लिए अलग से खुराक दिया जाता है उसके वजन और शारीरिक अवस्था को देखकर.


Diclofenac 50mg for adults two to three times a day.

Time should be 4 hours after taking the second dose after taking one dose.


Diclofenac Sodium 100MG SR Tablet is given to you only one tablet for A day.


Diclofenac Sodium 50mg । Diclofenac use, Dose, In Hindi ।




Diclofenac Sodium Side Effects in Hindi



डाइक्लोफिनेक सोडियम के ऐसे तो बहुत सारे साइड इफेक्ट है लेकिन आपको कुछ कॉमन साइड इफेक्ट की सूची मिलेगी. नीचे दिया गया सूची के अलावा अगर इस दवा से आपको कोई एलर्जी दिखाई दे या फिर कोई दिक्कत का सामना करना पड़े, 


तो आप इस दवा को या फिर इसके जैसे ग्रुप के दवा को आप इस्तेमाल ना करें, आप तुरंत इसे लेना बंद कर दे और डॉक्टर से परामर्श करें कूच कॉमन दुसबरोभाब जैसे

Vomiting, Stomach pain/epigastric pain, Nausea, Indigestion, Diarrhea,Heartburn, Loss of appetite और भी देखी जा सकते हैं.


Diclofenac Sodium 50mg । Diclofenac use, Dose, In Hindi ।













December 29, 2020

Tordex cough syrup in Hindi

 Tordex cough syrup in Hindi 


Torque Pharmaceuticals Pvt Ltd. Dwara Banaya hai. Iss syrup ko istemal kaise karte hai. Dushprabhav kiya hai. Aour iske Dose niche sari information diye gaye han.


Tordex cough syrup in Hindi
Tordex cough syrup in Hindi 



Tordex cough syrup Composition In Hindi


इस सिरप में 4 तरह के उपादान से बनाय गए है,

Composition

Bromhexine (4mg) 

Guaifenesin (100mg)

Menthol (1mg)

Salbutamol (2mg.


Tordex cough syrup Hindi jankari.

 

Tordex cough syrup 4 sald se banaya gaya hai. 

Bromhexine, Guaifenesin, Menthol aur Salbutamol.

Is syrup ke Prise ₹ 96 hai. Jo kam aour jiyade jo sakte hai.


Tordex cough syrup use in Hindi

 

Tordex syrup ka upoyog khasi ke upchar ke liye kiya jata hai. Respiratory Tract Infection  mai bhi kam karte hai. 


gale mai rahat dilata hai our fepro ke jalan se bhi rahat milte hai. Aur gale mai thandak ke mehsus karate hai. Ismai jo sald hai uska upayog 


Bromhexine

ek mucolytic hai, jo cough ko nikal ne mai madat karta hai.


Guaifenesin 

ek expectorant jo sukhe huye cough ko nikalne mai madat karta hai. Uske sath sash lene ki nali ko saf karne ka kam karte hai.


Menthol

ek organic compound hai jo gale mai coolness ke sath sath गले की जलन से राहत दिलाता है।


Salbutamol

ek bronchodilator hai jo airways ki  maspesi ko aram dete hai. Sash lene ki nali ko chora karte hai.


Charo mai jo gun hai sab milake sash lene mai asan banate hai. 



Tordex cough syrup Side effect in Hindi


Tordex syrup lene se aise to koee dusorovab nahi dekha ga hai. Agar ap Doctor ki salh se a syrup lete hai to koee bhi side effects ke lakshan nahi ke barabar. Fir bhi agar apko a syrup lene se agar niche diya gaya suchi se agar vari koee nuksan dikhai de to apne doctor se bat kare.


Kuch common side effects,


Headache

सरदर्द


Sweating

पसीना आना


Rash

जल्दबाज


Hives

हीव्स


Muscle cramp

मांसपेशी ऐंठन


Tremor

भूकंप के झटके



Nausea

जी मिचलाना


Vomiting

उल्टी


Diarrhea

दस्त


Stomach pain

 पेट दर्द


Indigestion

 खट्टी डकार


Bloating

सूजन


Tordex cough syrup in Hindi
Tordex cough syrup in Hindi 



Tordex cough syrup Alternative Brand In Hindi.


मार्केट मैं इस सिरप जैसे बोहोत सारि सिरप है । कुछ syrup के list niche दिया गया है,


Ancoril Syrup

Maya Drugs & Antibiotics



Cofgo Syrup

LA Grande Pvt Ltd



New Eascof Syrup

Cachet Pharmaceuticals Pvt Ltd


BD Rex Syrup

Rut Pharma Pvt Ltd



Tordex cough syrup Dose in Hindi 


Kisi bhi trha dawa lene se agar kisi bhi type ke allergy ya kuchbhi reaction dikhai de to dawa ko lena band karde.


Tordex cough Syrup ko boyasko logoke liye 2 se 3 bar din main le sakte hai.


Agar bachche ke liye diye jaye to uski saririk obosta ko dekh ke khurak diya jata hai.





Tordex cough syrup in Hindi  use dose aour side effects Hindi main.


December 27, 2020

Ascoril D plus syrup ke fayde in Hindi |

Ascoril D plus syrup in Hindi. ASCORIL SYRUP DOSE, SIDE EFFECT IN HINDI
Ascoril D plus syrup in Hindi | 



Ascoril D plus syrup ke fayde in Hindi Jankari


Ascoril D plus syrup Lozenges (Ginger) istemal kiya jata hai Cough को निकाल ने में madat करता है.ये common cold, flu, में काम करता हैं. इस दवा को 4 saal के बच्चों को नही दिए जाने चाहिए. smoking और asthma रोगियो के cough को ये दावा काम नही करता हैं,


Ascoril D plus syrup In Hindi


जानिए Ascoril D plus syrup in Hindi की जानकारी, लाभ, फायदे, उपयोग, प्रयोग, Janiye Ascoril D Plus ke use, faide, labhh, upoyog, price, dose, nuksan aour side effects, kitni lijaa sakte hai, Kaise khurak le, or kab le.

BRAND - Ascoril D plus syrup 

Manufactured by: Glenmark Pharmaceuticals Ltd.

Contains / Salt: Dextromethorphan Phenylephrine Triprolidine.



Ascoril D plus syrup uses in Hindi


यह सिरप सर्दी में, जुकाम में, सूखी खांसी में, या फिर धमपुर रहा हो या काली खासी हो, उसके इलावा यह सिरप सर्दी में, जुकाम में, सूखी खांसी में, या फिर धमपुर रहा हो या काली खासी हो, उसके इलावा नाक से छींक आना, 

या ज्यादा छींक आना सुखी खासी में भी इसे इस्तेमाल किया जाता है. इसके अलावा


Allergic Rhinitis

Common Cold

Blocked Nose

Cough

Runny Nose




Ascoril D plus syrup Side effects in Hindi


इस सिरप के साइड इफेक्ट के बारे में बात करें तो दोस्तों जैसे कि उल्टी आना दस्त होना चक्कर आना श्री में दाना होना अच्छे कुत्ता होना इस तरह का अगर आपको कोई दिक्कत हो तो इस मेडिसिन को लेना बंद कर दें और तुरंत अपने डॉक्टर से बात करें इसका साइड इफेक्ट और भी कुछ कम ऑन देखा गया है जैसे कि.


Difficulty breathing

सांस लेने मे तकलीफ,


Joint pain

जोड़ों का दर्द,


Facial swelling

चेहरे की सूजन,


Tachycardia,


fluttering in chest

छाती में फड़फड़ाहट,


Increased blood pressure

रक्तचाप में वृद्धि,


Increased Heart Rate

हृदय की दर barna,


उलटी अथवा मितली , घबराहट, तंद्रा, चक्कर आना हल्का चक्कर, पेट में दर्द, भ्रम की स्थिति, सिर में दर्द स्वप्न बेचैनी ,देखे जा सकते हैं। 

 

Ascoril D plus syrup Dose,side effect in Hindi |
Ascoril D plus syrup in Hindi | 



Ascoril D plus syrup Dose in Hindi


इस सिरप को इस्माल करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करे, इसका खुराक रोगियो के हालात पर निर्धारित किये जाते है, रोगियो के रोग के अनुसार ascoril D के खुराक लिये जाता हैं, 

इस सिरप का डोज एडल्ट के लिए दो चम्मच सुबह और शाम ले जा सकता है यह सिर्फ एडल्ट के लिए है और इस सिरप को 4 साल के कम उम्र के बच्चे को नहीं दिया जाता है


Ascoril D plus syrup ke sath kuch dawai ka Reactions 


Ascoril D plus syrup लेने से आपको कुछ बातों का धियान रखना चाहिए, Depression या Asthma के रोगियो को इस दिवस प्रॉब्लम होसकते हैं, Heart Disease जैसे रोगियो को Ascoril D plus syrup सिरप लेने से pahele डॉक्टर से बात करे ,

Kidney Cancer या Liver Disease के रोगियो को इस्तेमाल नही करनी चाहिए, इसके ilaba और भी जैसे, Angina, Heart Disease, Coronary Artery Disease, Hyperthyroidism, Diabetes, Glaucoma, Thyroid

जैसे bimario मैं नही लेनी चाहिए,



Ascoril D plus syrup Interaction medicine in Hindi


इस सिरप से interastion कुछ medicine के नाम।


Escitalopram,

Metoclopramide,

Ondansetron,

Alprazolam,

Isocarboxazid,

Perphenazine,



Ascoril D plus syrup Price in India


Ascoril D plus syrup प्राइस इंडिया में ₹96 है. आप इसे आसानी से ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं 1mg वेबसाइट में आप इसे डिस्काउंट में अभी खरीद सकते हैं तो नीचे लिंक पर क्लिक करके आप अच्छी डिस्काउंट से खरीद सकते हैं. दोस्तों प्राइस कभी भी बढ़ाया कम आ जाता है तो मार्केट के हिसाब से कफ सिरप का मूल्य निर्धारित होते हैं एस्कोरिल ड प्लस सिरप के विकल्प पर मार्केट में और भी बहुत सारे सिरप है तो नीचे आपको उन सारी सिरप का>



BUY ON 1MG 



Alercom D Syrup

कॉमनवेल्थ फार्मास्युटिकल्स

MRP- ₹44.43/Syrup.


Igocof D Syrup

Segos Biocare

MRP- ₹68/Syrup.


Velminic Dx Syrup

Delcure Life Sciences

MRP- ₹85/Syrup.


Ifcoff Dx Syrup

Biofield Pharma

MRP- ₹88/Syrup.


Chericof-SF Syrup Sugar-Free

Sun Pharmaceutical Industries Limited

MRP- ₹90/Syrup.




Ascoril D plus syrup ke istemaal kaise karen


इस दवा की DOSE के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें. USE करने के पहले लेवल की जांच कर लें. इसे मापने वाले DROPER से मापें और फिर KHURAK LE. इस्तेमाल करने के पहले अच्छी तरह से Bottole ko hilai. 
एस्कोरिएल डी प्लस सिरप शुगर फ्री Khane के साथ या बिना भोजन किए इसे लिया जा सकता है, लेकिन बेहतर यह होगा कि इसे एक doctor ke salha se khurak le.




Ascoril D plus syrup ke fayde in Hindi | dose, side effects  in Hindi



December 22, 2020

Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |


Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |
Leucorrhoea In Hindi


Leucorrhoea In Hindi


Ladkiyo ke safed pani nikel ni ki Chigissa Sastre main leucorrhea kaha jata hai.

likoria ko samany bhasha mein saphed panee kaha jata hai. yah striyon mein hone valee ek aam bemaree hai. isamen yoni se saphed rang ka gadha aur durgandhayukt panee nikalta hai. 


kisee tarah ka infection hone par siraav pile, halke neele ya halke Laal rang ka, Aur bahut chip chipa aur badbodar hota hai.


A ek sadharan problem hai jo adiktai mahilaon main dekhe jate hain. Normal samai mai bhi aur pregnancy ke dohoran a problem ho sakte hai. Safed Pani dhire dhire agar Pila ya Haren rang ke Rang badle to ye Infection ke karan bhi Ho sakte hai jo Paresani ki Bat ho sakte hai.


Agar aisi koee sadasirap ko leke problem ho to Turant apni Doctor Se paramarsh kare.


likoria ki best medicine


Aise to market mai Bohot sari dawa milte hai leucorrhea ke ilaj ke liye. 


Niche kuch achhi Product ke List Milega jo leucorrhea ke ilaj ke liye achchha mani jati Hai.


Aur Kuch Khas Prakritik Ilaj ke Salha Dunga Jo Ap asani se Ap ghar mai Hi ilaj kar sakte hai.


READ IN HINDI



Safed Pani Aane ka Reason


Dosto uske sath Mere kuch apna experience jo maine dekhi hai uske Bare mai bhi kuch suchi is page mai apko jankari milegi.


To sabse pehle Prakritik Dawa ke Bare mai jante hain jo is taknik manke leucorrhea ke ilaj mai achchha result mile hai.


leucorrhoea in Hindi Tips



Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |
Leucorrhoea In Hindi



1. अनार ( Anar )


Leucorrhea ya safadPani ilaj ke liye anar ko ek achchhi विषहर औषध mana 

Jata hai. अनार के छिलके, रस, पत्तियों, उपयोग किया जा सकता है, 

Roz 30 Anar ke patte ke sath 10 golmirchi Pis kar Adha glass pani ke sath agar Dinmai Subha aur sam Oye hain To Bohoti jaldi 2 se 3 hapto mai sadasrap ke problem se chhutkara milte hai.


2. lady's finger


lady's finger Roz khane se leucchreha ke rig ko kam kar hai. lady's finger ko ap dhoke kachche bhi kha sakte hain. Ya uske sath sahed milakar kha sakte hai.

lady's finger ko Roz khanese safedpani ke ilaj ke liye achchha kam karte hai.


HINDI JANKARI



3. Amla 

3 gram amla churna ke Sath 6 gram sahed milakar Din main dobara seban kare 4 hapte andar leucorrhea khatam ho jayega. 


Ya 20 gram Amla ke rash ke Sath 1/2 spoon sahed milakar roz kha sakte hai.


Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |
Leucorrhoea In Hindi



4. अदरक ( Adrak )


Adha glass garam pani ke sath adrak ke ras ko agar roz Dinmai subha sam pite hai to sadasirap 1 se 2 mahine mai thik ho jate hai.


Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |
Leucorrhoea In Hindi


5. Amrood 


1/2 liter pani main amrood ke patte ko tabtak Boil kare jabtak pani adha na ho jaye.

Uske bad यौन मुख mai us uglehuye patte ko kuch der lgakar rakkhe isse infection ko kam karte hai aur leucchreha ko khatam karte hai.


Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |
Leucorrhoea In Hindi



6. Tulshi 


Tulshi ke bohot hi achchha mana jata hai is rog ke liye. Aise to tulsi ke bohot Asadhi gun hai.

2 chamach tulsi ka rash uske sath 2 chammach sayhed milakar roz subha sam niyamit khane se leucorrhea ko khatam karta hain. Tulsi is ilaj ke liye bohot achchha results milte hain. 


HINDI jankari



7. Banana ( Kela )

Roz pakke kele ke sath 1glass Dudh Piya kare ya kachche kele ko pis kar sayhed ke sat roz pi sakte hai.

Ya kele ko raz apne sabji ke sath pakakar khaye ye leucorrhea ko Bohot kam karditi hai.


Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |
Leucorrhoea In Hindi



7. Alum 

Leucorrhea ke ilaj mai alum bohoti labhdayak sabit hua hai. 1 chamach ke adhese bhi kam alum powder 1glass pani mai milakar roz khane se turant safedpani nikalne ko bandh karte hai.

Alum har tarhake infection ko marne ya rokne ke liye achchha kam karte hai.

A ek antiseptic ka kam karta hai. Alum ko agar जोउनो मुह par istemal karne se leucorrhea ke infection ko marta hai.



8. Fenugreek 


1glass pani mai 1/2  chamuch Fenugreek bhigokar pura rat rakhhe fir subha bhiga hua Fenugreek ke sath sayhed milakar roz piya kare.



HINDI JANKARI


9. अंजीर 


अंजीर pure rat bhigo kar rakhne ke bad subha khali pet uske pani ko pan kare srap turant bandh hojate hai.



likoria me kya karna chahiye


sharer ko saaph rakhen. yonimaarg ko achchhe prakar se pane se saph karen. 


andargarment  soote kapdon ko pahne. din mein do baar inhen badlen. garbhapat ke lie adhik daviyon ka sevan na karen. 


masik dharm ke Samay saph-saphai ka vishesh dhyan rakhen. 


har 4-8 ghante mein pad badlate rahen. sterilizing pad ka istemaal Karen.


likoria me kya khana chahiye


Adhik namak sevan masaledar bhojan ka sevan nahin karna chahie. 

jank phood sevan basee bhojan ko nahin khana chahie. phal sevan reshedar sabjiyon ko adhik se adhik apne aahar mein shamil karen. 

paushtik bhojan len karne se likoria hone ka khatra kam hojate hain..



Safed pani ( likoria ) ke side effects in Hindi



likoria Hone se kuch side effect hote hai. firbhi agae koee problem dikhai de to doctore se bat kare.



1. कैल्शियम की कमी, 

Calcium deficiency,


2. खून की कमी, 

Anemic,


3. चेहरे का पीला पडऩा, 

Pale face,


4. आखों का काला होना, 

Eyes are black,


5. चेहरा धंस जाना भूख न लगना, 

Loss of face, loss of appetite,


6. चिड़चिड़ापन, 

Irritability,


7. किसी काम में मन न लगना, 

Not interested in anything,


8. सिर के बालों का अधिक मात्रा में गिरना, 

Excessive hair fall,


9. आखों की रोशनी कम होना,

Light of eyes,



likoria ki best medicine


sexually rogon ke karan likoria ho sakta hai. isalie, STD ke ilaj se likoria ka ilaj karane mein madad karta hai.


is rog ke upachaar mein kuch antibiotics jaise metronidazole, clindamycin or tinidazole istemal kiya jata hai.


iske ilaba sabse BHAROSAMAN AYURVEDIC product hai niche kuch likoria ki best medicine Jankari hai.



Ayurveda Leukoyam Capsule - Herbal Medicine for Leucorrhoea, 

Ayurvedic Treatment for White Discharge/Leucorrhoea

by YAMUNA PHARMACY







Leucorid Tablet 100 Nagarjuna
by NAGARJUNA HERBAL CONCENTRATES LTD

READ MORE>




The eBook extensively deals with
White Discharge (Leucorrhoea) in Women 
Stop it Forever with the Best Home Remedies Kindle Edition
The best part of the eBook is its "Natural Treatments" section.

READ MORE>




Leucorrhoea, Its Concomitant Symptoms, and Its Homoeopathic Treatment
This is an EXACT reproduction of a book published before 1923. This IS NOT an OCR'd book with strange characters,

 READ MORE>





Leucorrhoea In Hindi | Safed Pani Aane ka Reason |



white pani problem in female in hindi.

safed pani medicine.

white pani ka ilaj in hindi.

safed pani ka ilaj patanjali

safed pani ke side effects in Hindi.

likoria ki best medicine.

likoria me kya khana chahiye.


December 06, 2020

Zerodol P Tablet USES IN HINDI | Zerodol P Tablet kis kaam aati Hai |

Zerodol P Tablet USES IN HINDI | Zerodol P Tablet kis kaam aati Hai |
Zerodol P Tablet USES IN HINDI

 

Zerodol P Tablet USES IN HINDI 


Zerodol P Tablet COMPANY NAME-

Ipca Laboratories Ltd.


COMPOSITION / साल्ट

Aceclofenac-100MG.

Paracetamol- 325MG.



Zerodol P Tablet kis kaam aati Hai


जोड़ों का दर्द, सूजन, दांत दर्द, पेट दर्द, उसके साथ बुखार, कान दर्द ,मासिक धर्म के दौरान दर्द होना, हाथ और पैर में दांत इन सारी हालातों में डॉक्टर दिया करते हैं. तो पहले जान लेते हैं कि जीरोडोल पी टेबलेट में कौन-कौन सी साल्ट है. 


Aceclofenac 100MG.

एसिक्लोफेनाक nonsteroidal anti-inflammatory drugs (NSAIDs) ग्रुप में आते हैं. जोड़ों का दर्द गठिया के दर्द सूजन हाथ और पैर में दर्द इन सारे हालातों में एसिक्लोफेनाक इस्तेमाल किया जाता है.


जोड़ों का दर्द या गठिया के दर्द इन हालातों का शिकार 50 साल के उम्र लोगों के होते हैं इन सरी हालातों में यह दवा बहुत अच्छा काम करता है.


ALSO, READ.


Paracetamol 325MG.

इस दवा का इस्तेमाल हमेशा बुखार और दर्द में किया जाता है उसके साथ साथ दांत दर्द कान दर्द जोड़ों का दर्द या फिर बुखार जुखाम और सर्दी में दिया जाता है. 


Zerodol P Tablet दवा को सर दर्द में भी इस्तेमाल किया जाता है अगर आपको सर में दर्द हो तो इस दवा को आप ले सकते हैं या फिर मासिक धर्म के दौरान अगर पेट में दर्द हो तो आप इसे इस्तेमाल कर सकते हैं.



Zerodol P Tablet SIDE EFFECT IN HINDI


इस तरह का दवा लेने से अगर आपको कोई एलर्जी दिखाई दे तो Zerodol P Tablet लेना बंद कर दे. किसी भी दवा लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले, ऐसे तो जीरोडोल पी टेबलेट का कोई नुकसान दिखा नहीं गया है फिर भी इस टैबलेट को लेने से कुछ कम ऑन दुष्प्रभाव देखा गया है. 


तो आइए नीचे कुछ सूची है जोकि जीरोडोल पी टेबलेट लेने से साइड इफेक्ट या दुष्प्रभाव देखा गया है.


Shortness of breath.

visual disturbances.

swelling.

Red spots.

Itching or burning.

Shortness of breath.

Liver damage.

Feeling hungry.

अनैफिलैक्टिक रिएक्शन.

स्टीवन-जॉनसन सिंड्रोम.

दिमागी बुखार गंभीर.



Zerodol P Tablet DOSE IN HINDI


इस टैबलेट को लेने से पहले हमेशा किसी डॉक्टर का सलाह ले ऐसे तो Zerodol P Tablet का डोज हमेशा डॉक्टर पेशेंट की कंडीशन के हिसाब से दिया जाता है आप इस टैबलेट को दिन में 2 से 3 TABLET ले सकते हैं. 


लेकिन अगर आप डॉक्टर के परामर्श से इस टैबलेट को इस्तेमाल करते हैं तो आपको साइड इफेक्ट होने की कम चांसेस है.



Zerodol P Tablet WARNING IN HINDI


Zerodol P Tablet को लेने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए कुछ-कुछ कंडीशन में इस टैबलेट को लेने से आप को भारी नुकसान हो सकते हैं, तो जान लेते हैं कुछ वार्निंग के बारे में केजरीवाल एसपी के साथ अगर आप इस कंडीशन में रहते हैं तो आपको नुकसान हो सकते हैं.


pregnancy.

गर्भवती महिलाओं को इस टैबलेट को लेने से पहले किसी डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए


ALSO, READ 


Alcohol.

इस टैबलेट को लेने के समय आप शराब का उपयोग ना करें शराब के साथ किसी भी मेडिसिन का रिएक्शन हो सकते हैं


Breastfeeding.

अगर कोई महिला बच्चों को स्तनपान कराती हो तो उन कंडीशन में इस टैबलेट को लेना नहीं चाहिए ऐसे तो कोई नुकसान नहीं है फिर भी अगर स्तनपाई महिलाओं को इस टेबलेट से एलर्जी है तो बच्चों को नुकसान हो सकते हैं.


liver disease.

अगर आपको पहले से कोई लिवर का रोग है तो आप इसको लेने से पहले जरूर अपने डॉक्टर को अपने तबियत के बारे में बताएं तब जाकर इस टेबलेट का इस्तेमाल करें


kidney problem.

अगर आपको पहले से कोई किडनी की प्रॉब्लम है तो आप इस टेबलेट को लेने से पहले डॉक्टर को बताएं कि आपको कितने दिन तक किडनी या फिर लिवर का प्रॉब्लम है तब जाकर आप कोई भी दवाई ले.


Zerodol P Tablet USES IN HINDI | Zerodol P Tablet kis kaam aati Hai |
Zerodol P Tablet USES IN HINDI



Zerodol P TABLET Contraindications in Hindi


अगर आपको अल्सर या फिर एलर्जी या हार्ट फेल होना पेट में अल्सर इन जैसे रोग है तो आप जीरोडोल पी टेबलेट को लेना बंद कर दें क्योंकि इन सारे हालातों में आपका तबीयत और भी ज्यादा खराब हो सकते हैं.


Some Frequently Asked Questions about Zerodol P Tablet ( जीरोडोल पी टेबलेट के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवाल )


1. जीरोडोल पी टेबलेट लेना क्या सही है ?

 जी हां अगर आप डॉक्टर की सलाह से इस टैबलेट को लेते हैं तो आपको कोई नुकसान नहीं होंगी.


2. Zerodol P TABLET आदत या लत बन सकती है ?

नहीं ऐसा कोई देखा नहीं है कि जीरोडोल पी लेने से आपको फिर से लेना ही पड़ेगा किसी भी दवा लेने से पहले अपने डॉक्टर से बात करके ले


3. शरीर में बुखार और दर्द में भी दिया जा सकता है ?

जी हां अगर बुखार और दर्द हो इस दोनों कंडीशन में जीरोडोल पी टेबलेट काम करता है.


ALSO, READ 



Zerodol P TABLET KE SATH NAHI LENA CHAHIYE


मार्केट में Zerodol P Tablet तरह बहुत सारी दवा आपको मिल जाएंगे जो की जो धूल भी टेबलेट के जैसे आपको मिल सकता है. किसी भी दवा लेने से पहले जरूर अपने डॉक्टर को दिखाकर ही इसका खुराक ने ऐसी बहुत सारी दवा है जिसके साथ आप मिस कॉल नहीं ले सकते जैसे>


Brufen.

Combiflam.

Ibugesic Plus.

TizapamBrufen MR.


इसके अलावा भी बहुत सारी इनग्रुप का मेडिसिन एक साथ आप खुराक नहीं ले सकते.


Zerodol P Tablet Alternative


मार्केट में जीरोडोल टेबलेट के जैसे बहुत सारे टेबलेट है नीचे आपको कुछ अच्छे कंपनी के टेबलेट के नाम दिया हुआ है.


Hifenac P Tablet.

Ibicox.

Ibicox MR.

Iconac P.

Inflanac Plus.

Samonec Plus.

Serrint P.

Sioxx Plus.

Sistal AP.

MORE...



Zerodol P Tablet USES IN HINDI | zerodol p tablet kis kaam aati hai |


December 02, 2020

Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha In Hindi |

Himalaya ashwagandha vs Patanjali ashwagandha In Hindi 



Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha In Hindi |
Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha 




आखिर सबसे अच्छा कौन है Himalaya ashwagandha या फिर Patanjali ashwagandha तो आइए जान लेते हैं इन दोनों अश्वगंधा के बारे में पहले जानते हैं अश्वगंधा क्या होता है. अश्वगंधा के यूजर्स क्या है और उसका साइड इफेक्ट क्या-क्या हो सकते हैं.


दोस्तों ashwagandha एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जिसके बारे में आपको भी कुछ ना कुछ पता ही होगा, 



ashwagandha benefits in hindi


और इसकी अनगिनत फायदों की वजह से ही इसे पूरी दुनिया में यूज किया जाता है आपकी पूरी जानकारी के लिए आज मैं आपको अश्वगंधा के फायदे और मार्केट में सबसे ज्यादा बिकने वाले  patanjali ashwagandha कैप्सूल और Himalaya ashwagandha टेबलेट के बारे में सब कुछ बताऊंगा मैं बताऊंगा कि इन दोनों में से सबसे असरदार कौन है इनका असर कितने दिन में दिखने लगता है और आप के लिए कौन सी अश्वगंधा कैप्सूल सही है तो सबसे पहले अश्वगंधा के फायदे के बारे में जानेगे,



मैं बताऊंगा कि इंदौर में सबसे असरदार कौन है इनका असर कितने दिन में दिखने लगता है और आप के लिए कौन सी अश्वगंधा कैप्सूल सही है, 


तो सबसे पहले अश्वगंधा के फायदे के बारे में जानते हैं 200mg अश्वगंधा को पूरे शरीर के लिए फायदेमंद माना जाता है इसके रेगुलर उसे हमारे दिमाग सही से काम करता है, 


वजन बढ़ाने में बहुत असरदार है, हमारे शरीर के मेलडी को पूछ कर दी है, जिसे हम जल्दी बीमार नहीं पड़ते, इनफर्टिलिटी को ठीक करती है, डायबिटीज थायराइड कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल रखती है, ड्रेस को कम करती है और अच्छी नींद में बहुत मददगार साबित हुई है, 


एक एंटीऑक्सीडेंट भी है इसको ठीक करके स्किन को और चमकदार बनाती है, इसके साथ-साथ को मजबूत बनाती है बहुत मददगार है और हड्डियों को मजबूत बनाती है, 


आपको पता चल गया होगा कि aswaghandha फायदेमंद है लिखने से पहले कुछ बातों का ध्यान देना चाहिए जैसे मार्केट में तो बहुत सारी अश्वगंधा कैप्सूल और tablet milta hai,


कैसे पता करें कि हमारे लिए कौन सा अच्छा है नहीं होगा और सबसे जरूरी का क्या है जो मैं आपको सबसे पहले जानते हैं कि पतंजलि और हिमालय अश्वगंधा कैप्सूल में से बेस्ट कौन है.


Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha In Hindi |
Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha 




Patanjali ashwagandha Price 


sabse pahle Jante Hain Ki Patanjali aur Himalaya ashvgandha capsule mein se best kaun hai Patanjali ashvgandha capsule ki packing Ek dabbe Mein Do Patte hote hain MRP 50 rupaye hai.



Himalaya ashwagandha Price 


हिमालया ashwagandha टैबलेट की बोतल के रूप मेँ आंटी है जिस्मिन 60 कैप्सूल उपलब्ध होत हैं, जो MRP 136 Hai 10 Tablet ka Hisab Lagaya Jaaye से uski kimat 23 रुपये hoti Hai के लिए उपलब्ध हैं।


Himalaya ashwagandha tablets in Hindi


इट्स क्लियर हो गई है पतंजलि का अश्वगंधा आपको ₹25 का 10 कैप्सूल मिलेगा और हिमालय अश्वगंधा ₹30 का दस्तावेज पड़ेगा.


Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha In Hindi |
Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha 



लेकिन पतंजलि अश्वगंधा में एक कैप्सूल में अश्वगंधा की क्वालिटी 451 मिलीग्राम है. जवा एक कैप्सूल खाते हैं तो आपके शरीर को 451 मिलीग्राम अश्वगंधा मिलता है, वह हिमालय अश्वगंधा के एक ट्वीट में 250 मिलीग्राम अश्वगंधा अवेलेबल है. 


Patanjali ashwagandha tablets in Hindi


टेबलेट के मुकाबले कैप्सूल शरीर को जल्दी फायदा देता है क्योंकि यह बॉडी में ऐप्स abjorb जल्दी हो जाता है जल्दी abjorb होगा तो खून में जल्दी मिलेगा.


और फिर रिजल्ट भी जल्दी देगा जो कि पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के फॉर्म में है वह हिमालय अश्वगंधा टेबलेट फॉर्म में है तो पतंजलि वाला आपको जल्दी फायदा करेगा दोनों की अवेलेबिलिटी की बात करें तो दोनों हाथ बंदा केमिस्ट शॉप पर ऑनलाइन वेबसाइट पर मिल जाएंगे.



अश्वगंधा ( ashwagandha ) कब खाना चाहिए?


देखा जाए तो पतंजलि अश्वगंधा ज्यादा फायदेमंद होगा क्योंकि एक तो यह कैप्सूल फॉर्म में है और दूसरा इसमें अश्वगंधा की मात्रा ज्यादा है लेकिन पैसों की तरफ देखा जाए तो हिमालय अश्वगंधा से ₹2 महंगा जरूर है आप बात करते हैं इसको लेने का सही तरीका क्या है, 


पतंजलि अश्वगंधा को एक से दो कैप्सूल दिन में दो बार ले सकते हैं और हिमालय अश्वगंधा टेबलेट को एक टेबलेट सुबह शाम ले सकते हैं दोनों को दूध या पानी के साथ ले. 




Himalaya ashwagandha vs patanjali ashwagandha In Hindi |

December 01, 2020

Himalaya Shatavari tablet In Hindi | Himalaya shatavari ke faidy |

Himalaya Shatavari tablet In Hindi | Himalaya shatavari ke faidy |
Himalaya Shatavari tablet In Hindi caption



  Himalaya Shatavari tablet In Hindi


Himalaya Shatavari tablet ka Pura Pura jankari dene wala hun aaj ki is page Mein Shamil Hoga Himalaya Shatavari tablet Ka review Iske fayde, upyog, Kaise Lena hai aur bhi bahut Kuchh.


अगर आप कई सालों से PCOS से परेशान हैं और उनमें अनियमित पीरियड्स, ब्लोटिंग, वजन बढ़ना, मुंहासे, ड्राई स्किन, पेट में ऐंठन, मूड स्विंग आदि हैं। बस एक महीने के लिए  Himalaya Shatavari tablet को भाले की चाय के साथ आज़माया जाता है, 


जो PCOS रोगियों के लिए एक वरदान है. और 29-30 दिनों के बाद मेरी अवधि पूरी हो गई है। इसके अलावा मेरा ब्लड शुगर लेवल भी संतुलित है और मेरी थकान का स्तर काफी कम हो गया है। मैं किसी भी महिला को सुझाव दूंगा कि वह आयुर्वेदिक / पीसीओ से पीड़ित है क्योंकि यह आयुर्वेदिक है और इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है।


Company name-

Himalaya Drug Company.

sald- 

Reduced Breast milk, gastritis (Sthanyadosha, Amasaya shotha)


Himalaya Shatavari  पाउडर, टैबलेट और तरल रूपों में उपलब्ध है। शतावरी goliyon की एक विशिष्ट खुराक 500 मिलीग्राम है, प्रतिदिन दो बार तक। शतावरी अर्क की एक विशिष्ट खुराक पानी या रस में 30 बूंदें होती हैं, जो रोजाना तीन बार तक lesakte hai.


Himalaya shatavari ke faidy


Shatavari main milne wala padarth jo sharer mein akele oxygen anuon ko parimarjan Karte Hain. aur aise Dawa jo kamechchha badhaane mein kargar hain.

stanpan karane valee mahilao mein doodh utpadan aur sraav ko badhava dene vale sabse achchha dawa hai.

iske ilaba>

Antioxidants मुक्त-कट्टरपंथी सेल क्षति को रोकने में मदद करते हैं.

anti-inflammatory capabilities.

boost your immune system.

relieve cough.

treat diarrhea.

treat ulcers.

treat kidney stones.

maintain blood sugar.

treat depression.


Himalaya Shatavari tablet In Hindi | Himalaya shatavari ke faidy |
Himalaya Shatavari tablet In Hindi



Himalaya Shatavari side effect in Hindi


Himalaya Shatavari tablet लेने वाले कुछ लोगों में एलर्जी की प्रतिक्रिया Dekhi gayi हैं। यदि आपको Himalaya Shatavari tablet से एलर्जी है, तो इस पूरक lena band kare, is dawa ko lenese kuch dushpravab dekhi gayi hai।

rash.
fast heart rate.
itchy eyes.
itchy skin.
difficulty breathing.
dizziness.

more..


 Himalaya Shatavari tablet dose in hindi


Himalaya Shatavari tablet की एक विशिष्ट खुराक 500 मिलीग्राम है, प्रतिदिन दो बार lesakte hai। शतावरी अर्क की एक विशिष्ट खुराक पानी या रस में 30 बूंदें होती हैं, जो रोजाना तीन बार तक होती है।





Himalaya Shatavari tablet In Hindi | Himalaya shatavari ke faidy |